टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में बुधवार को हुए मुकाबले में भारत को बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाज़ी करने के लिया कहा. टीम ने 20 ओवरों में 184 रन बनाये. केएल राहुल ने धीमी शुरुआत के बाद हाफ़-सेंचुरी मारी और फिर विराट कोहली ने अपने प्रिय मैदान पर एक बार फिर बड़ा स्कोर बनाया.

कोहली ने 44 गेंद में 64 रन बनाये और इस दौरान उन्होंने 9 बार गेंद को बाउंड्री पार भेजा (8 चौके और 1 छक्का).पूर्व कप्तान विराट कोहली जिस तरह से टी-20 विश्व कप में खेल रहे हैं, इसे उनका दूसरा संस्करण कहा जा सकता है.

फ़ॉर्म में आयी एक डिप के बाद इस टूर्नामेंट में उन्होंने जिस तरह से खेलना शुरू किया है, वो शानदार है. विराट कोहली ने इस टूर्नामेंट में अब तक 4 मैचों में बल्लेबाज़ी की है और उनके खाते में 220 रन आ चुके हैं.

कोहली ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ 82 (नाबाद),नीदरलैंड्स के ख़िलाफ़ 62 (नाबाद), साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ 12 और आज बांग्लादेश के ख़िलाफ़ 64 (नाबाद) रन बनाये. सनद रहे कि टूर्नामेंट में ऐसे खिलाड़ी भी हैं जिन्होंने टूर्नामेंट के सुपर 12 से पहले वाले राउंड में भी बल्लेबाज़ी की है.

विराट ने उन्हें भी पीछे छोड़ा हुआ है.पाकिस्तान के ख़िलाफ़ हुए मैच में उन्होंने जल्दी-जल्दी गिर रहे विकेटों के बीच ऐंकर करने वाली पारी खेलनी शुरू की और फिर आख़िरी मौके पर रन बढ़ाने की गति बढ़ाई और इंडिया को ऐसे मौके से मैच जिताया जब मैच का नतीजा 85% पाकिस्तान के हक में बताया जा रहा था.

इस टूर्नामेंट में कोहली इसी तरह से रन बनाते हुए दिख रहे हैं.शुरुआती हिस्से में वो सधी हुई पारी खेल रहे हैं और फिर मैच के आख़िरी ओवरों में रन बनाने का कोई भी मौका नहीं जाने दे रहे. सामने वाली टीम के बड़े,लय में चल रहे गेंदबाज़ों के आंकड़े भी ख़राब करने में कोई कोताही नहीं बरत रहे.

सुपर 12 से खेलना शुरू करने वाले बल्लेबाज़ों में कोहली के बाद जिसने सबसे ज़्यादा रन बनाये हैं, उसके और कोहली के बीच बहुत बड़ा अंतर है. कोहली के 4 मैचों में 220 रनों के मुक़ाबले 3 मैचों में 178 रनों के साथ ग्लेन फ़िलिप्स नज़र आते हैं.

इस टूर्नामेंट में विराट कोहली की परफॉरमेंस का आकलन उनके एवरेज से भी लगाया जा सकता है. 4 मैचों के बाद विराट इस टी-20 विश्व कप में 220 के एवरेज से खेल रहे हैं. साउथ अफ़्रीका के सिवा और कोई भी टीम उनका विकेट नहीं ली पायी है.

अपनी सभी पारियों में कोहली ने अभी तक सामने वाली टीम को कोई भी मौका भी नहीं दिया है. एक तरफ़ रोहित शर्मा दो मैचों में दो ड्रॉप हुए कैचों को बड़ी पारी में नहीं बदल सके हैं, वहीं कोहली बगैर कोई चांस दिये एक के बाद एक रन बनाने में लगे हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *